Mouse in Hindi ( Mouse क्या है ?) और इसके प्रकार हिंदी में

By | April 21, 2020
computer mouse kya hai

‘Mouse in hindi’   – जब भी कोई Computer , माउस  का नाम लेता है तो दिमाग में माउस (Mouse in Hindi) का चित्र उभर ही जाता है.

पर दोस्तों क्या आप जानते है की आखिर Mouse किसे कहते है ? माउस कंप्यूटर का मुख्य input device में से एक है जो कंप्यूटर में कार्य करने की हमारी स्पीड और रूचि को बढ़ता है. कंप्यूटर स्क्रीन आइकॉन को माउस के मदत से कण्ट्रोल किया जाता है. आइये  जानते है विस्तार से  इस पोस्ट  Mouse in Hindi में.

 

माउस क्या है? (What is Mouse in Hindi)

माउस कंप्यूटर में सर्वाधिक प्रयोग होने वाला एक  Input device  है  जिसे Pointing device भी कहते है. ग्राफिकल यूजर इंटरफ़ेस (GUI – Graphical User Interface)  के बढ़ते उपयोग के कारण कंप्यूटर का ये महत्वपूर्ण अंग बन गया है.

Mouse का अविष्कार डॉ. डगलस इंजेल्बर्ट (Dr. Douglas Engelbart) ने  1964 ई.  में किया था . तब से लेकर आज तक ये लोकप्रिय इनपुट डिवाइस बना हुवा है.

माउस की सहायता से हम Computer की Screen पर कर्सर (courser) या किसी Object ( चित्र, video,अंक) को एक स्थान से दुसरे स्थान तक ले जा सकते है.

Mouse का प्रयोग किसी Command, Dialog box, Icon या line को सेलेक्ट करने या उससे सम्बंधित कार्य को करने के लिए भी किया जाता है.

माउस को Computer cabinet में बने Serial Port , PS/2 Port या USB Port से जोड़ा जाता है. आज कल सीरियल पोर्ट वाले माउस का उपयोग नही होता है. आजकल USB और वायरलेस माउस उपयोग में लाया जाता है.

mouse kya hai

Mouse का पूरा नाम (full form of the mouse) 

Manually Operated Utility for Selecting Equipment होता है.

 

Mouse कैसे काम करता है ( How does the mouse work Hindi में )

दोस्तों  Mouse को Pointer device भी कहा जाता है. जिसका कार्य कंप्यूटर स्क्रीन में ऑब्जेक्ट का सिलेक्शन से लेकर किसी भी प्रकार का आदेश देने के लिए या बंद करने के लिये किया जाता है.

माउस में दो या तीन बटन हो सकते है जिन्हें – Right , Left और Center बटन कहते है. Mouse के बटन एक तरह से मिक्रोस्विच का कार्य करते है जिन्हें दबाकर Computer को वांछित सन्देश भेजा जाता है.

माउस के तीन बटन इस प्रकार कार्य करते है – ( Mouse in Hindi )

Left Button – यह Mouse के बाएँ ओर होता है . Left बटन को दबाकर इससे Singal  Click, Double Click ,Drag, close और ओपन का कम लिया जाता है.

Right Button – यह Mouse के दायी ओर होता है. Right Button को दबाकर कुछ विशेष कार्य जैसे dialog box या menu box को Open (खोलने) , Property देखने आदि का कार्य किया जाता है.

Center Button – यह Mouse के मध्य में गोल चकरी के तरह होती है. इसे Scroll Button भी कहते है.इसको घुमाकर Document पेज या वेब पेज को उपर निचे किया जाता है.

 

Mouse के प्रकार (Types of Mouse in Hindi)

Mouse के कुछ खास प्रकार होते है , जो उसके आकार , बनावट और Technology  के आधार से अलग होते है . पर इनकी कार्य करने की Functionality एक जैसे ही होती है. बस अंतर टेक्नोलॉजी का ही होता है जो कुछ एक प्रकार है –

मैकेनिकल माउस (Mechanical Mouse in Hindi)

मैकेनिकल माउस में निचे की ओर एक रबर की बॉल (गेंद) लगी होती है. जो किसी समतल सतह (Mouse Pad) पर माउस को हिलाने पर Ball घूमता है तथा उसकी गति और दिशा मोनिटर पर Mouse Pointer के गति और दिशा में बदलती है.

माउस की गेंद घुमने से उसमे लगे सेंसर कंप्यूटर को Signal देते है. mechanical mouse के लिए mouse pad की आवश्यकता होती है. इसे जोड़ने के लिये Serial पोर्ट की आवश्यकता होती है. आज कल इस तरह के माउस प्रचलन में नही है. क्योकि इसमे बॉल के टूटने की समस्या आती रहती है .

 

ऑप्टिकल माउस (Optical Mouse in Hindi)

ऑप्टिकल माउस प्रकाश तरंगो के परावर्तन के आधार पर कार्य करती है. इसके निचले सतह में LED लगी होती है. LED (Light Emitting Diode) या लेजर डायोड द्वारा उत्पन्न प्रकाश तरंगे सतह से परावर्तित होती है. जो तरंगे सतह से परावर्तित होती है उसे Photo Diode सेंसर द्वारा Read किया जाता है. इसे किसी भी अपारदर्शी सतह पर रख कर प्रयोग किया जा सकता है .

इस तरह के माउस  दो प्रकार के आते है – जो PS/2 Port और USB Port वाले भी होते है. आज कल USB mouse का प्रचलन अधिक है. ये कई रंगों में आती है जो देखने में भी आकर्षक होती है .

 

वायरलेस माउस (Wireless Mouse / Cordless Mouse in Hindi)

Wireless mouse बिना तार वाले माउस होते है. इसकी बनावट Optical माउस के तरह ही होती है. इसमे Computer के साथ सुचनावो का आदान प्रदान Radio Frequency , Infrared ray या Bluetooth / Wi-Fi  के जरिये होता है.

Wireless mouse में एक ट्रांसमीटर तथा एक रिसीवर होता है. Transmitter माउस के भीतरी भाग से जुड़ा होता है तथा Receiver USB Port द्वारा motherboard  से जुड़ता है . ट्रांसमीटर माउस द्वारा उत्पन्न Signal को Radio तरंगो में बदलकर Receiver तक भेजता है . जो पुनः सिग्नलों में बदलकर कंप्यूटर को देते है.

Wireless mouse, 2.4 GHz आवृति की तरंगो पर काम करती है और ये माउस में लगे Battery से उर्जा प्राप्त करती है.

 

टच पैड (TouchPad) 

Touch Pad लैपटॉप तथा Notebook कंप्यूटर में बना एक इनपुट Device है जो Mouse की जगह प्रयोग में आता है . टच पैड के ऊपर उंगली घुमाकर माउस Pointer को एक स्थान से दुसरे स्थान तक ले जाया जाता है. इसमे भी बटन होते है जो दबाने पे कार्य करते है.

 

माउस के कार्य (Function of Mouse in Hindi)

माउस के द्वारा निम्नलिखित कार्य किये जाते है –

Select – माउस का प्रयोग किसी icon , Text या image को सेलेक्ट करने के लिए किया जाता है. सेलेक्ट होने पर icon , Text या image के रंग में परिवर्तन दिखाई देता है. Select किये गये Object को Copy , Cut ,Past या Delete कर सकते है.

 

Click – माउस के बाये बटन को दबाकर क्लिक किया जाता है. Singal Click करने से Object Select हो जाता है .

 

Double Click – mouse में बाये बटन को जल्दी – जल्दी दो बार दबा कर छोड़ना Double Click कहलाता है . इसका प्रयोग करके किसी बंद फोल्डर (Folder) को खोलने तथा किसी प्रोग्राम को Activate या Start करने के लिए किया जाता है.

 

Right Click – माउस के दाये  बटन को किसी ऑब्जेक्ट पर एक बार दबाकर उससे सम्बंधित menu देखने के लिए करते है. Right Click से किसी भी Object की Properties  जानने के लिये किया जाता है.

 

Drag and Drop – किसी icon या Object को एक जगह से दूसरी जगह ले जाने के लिये माउस के बाये बटन को दबाकर इसे कम में लाया जाता है. इसका उपयोग  किसी icon , Photo , File , Folder को कंप्यूटर Screen में जगह बदलने तथा मेमोरी में ऑब्जेक्ट को भेजने के लिए किया जाता है.

 

Paint Brush – माउस का प्रयोग विभिन्न Paint Program में brush के रूप में भी होता है.

 

माउस का Setting ( Settings of Mouse in Hindi)

कंप्यूटर में प्रयोग होने वाले ऑपरेटिंग सिस्टम (Operating System) में Mouse की Properties का सेटिंग्स किया जाता है. इसके लिये Control Panel में मौजूद Mouse Setting Option में क्लिक किया जाता है . फिर माउस के बटन के कार्यो को अदला-बदली किया जाता है, जो बाये हाथ से काम करने वालो के लिये सुविधा देता है.

 

Conclusion

दोस्तों मुझे पूरा विश्वास है, की आपको ये पोस्ट Mouse क्या है (Mouse in Hindi) ? जरुर पसंद आयी होगी. और आशा है की Mouse Settings से सम्बंधित बहुत सारी बातो को को अपने जाना होगा.

दोस्तों आपसे यही उम्मीद है की इस पोस्ट को अपने दोस्तों और संबंधियों को जरुर share करे  ताकी वो भी इस पोस्ट का लाभ उठा सके.

दोस्तों अगर Mouse in Hindi से सम्बंधित आपका कोई प्रश्न हो तो Please comment बॉक्स में कमेंट जरुर करे. ताकि हम सुधार कर सके.    (धन्यवाद)

 

 

One thought on “Mouse in Hindi ( Mouse क्या है ?) और इसके प्रकार हिंदी में

  1. Pingback: What is Keyboard in Hindi ( कीबोर्ड क्या है ?) - Technical miki

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *